Oct 11, 2018
13 Views
Comments Off on जानिए ब्रिटेन की ३२ वर्ष की एक लड़की अपने १५ वर्ष वाले उम्र में कैसे चली गई

जानिए ब्रिटेन की ३२ वर्ष की एक लड़की अपने १५ वर्ष वाले उम्र में कैसे चली गई

Written by

जी हां आज हम बताने जा रहे हैं कुछ अनोखी दास्तां। जिसे सुनकर आप हैरान हो सकते हैं। हम बताने जा रहे हैं ब्रिटेन की एक ऐसी लड़की के बारे में जिसका नाम नाओमी है। वह सन् 2008 में 32 वर्ष की थीं। लेकिन उनके साथ ऐसी घटना घटी कि वह अपने आप को 15 वर्ष की लड़की समझने लगी। वह एक दिन जब अपने बिस्तर से सोकर उठी तो उन्होंने अपने आप को 15 वर्ष का पाया या यूँ समझिये कि वह उस समय में चली गयी थी जब वह सन् 1992 में 15 वर्ष की थीं और वह अपने वर्तमान समय को भूल चुकी थी। उनको सब कुछ अजीब लग रहा था। वह अपने बिस्तर, कपड़े और घर आदि को पहचान पाने में असमर्थ थीं।

Forgotten Girl Naomi

जब उन्होंने अपना चेहरा आइने में देखा तो उनको उनका ही चेहरा अजनबी सा लगा। बोलने पर उनको उनकी आवाज तक अजनबी सी लगी। वो तो यह तक भूल गयी कि उनकी 10 वर्ष की एक बेटी भी है। उनके साथ ये सब क्या हो रहा था ये वह कुछ नहीं समझ पा रहीं थीं। फिर उन्होंने अपने आप को पहचानने की बहुत कोशिश की। तब नाओमी ने अपने बेड के नीचे एक बक्शे को निकाला उसमे कुछ पेपर पड़े  थे और एक डायरी भी थी जिसे वह रोज लिखा करती थीं उन्होंने उस डायरी में पाया कि वह ड्रग्स लेती थी और अपने घर से बेघर भी हो चुकी थीं। उनका यौन शोषण हुआ था। जिस राज को उन्होंने अपने दिल में बहुत सालों तक दफन रखा और डायरी में लिख कर रखा। तब उन्हें पता चला कि वह एक सिंगल पेरेन्ट थी और साथ ही बेरोजगार भी। उनको खर्च सरकार देती थी। इसके साथ ही उनको उस डायरी में उनकी जीवन के दुःख और संघर्ष के बारे में पता चला। उन्हें लिखने का शौक था, वह एक लेखिका भी बनना चाहती थीं।

जब नाओमी को कोई रास्ता नहीं मिला तो वे एक अच्छे मनोचिकित्सक के पास पहुंची और उन्हें अपनी परेशानी के बारे में बताया। उसने उनकी जिंदगी पर काफी रिसर्च किया और कई दूसरे चिकित्सकों से बात की तब चिकित्सको ने बताया कि उन्हें क्षणिक वैश्विक भूलभुलैया यानि ट्रांजिट ग्लोबल एमनीशिया हुआ है। ये एक दुर्लभ प्रकार का एमनीशिया होता है। जिसमें स्वस्थ मनुष्यों में कुछ समय के लिए स्मृतिलोप होता है जो कुछ घंटों या कुछ दिनो तक रह सकता है। डॉक्टर ने उन्हें यह भी बताया कि इसे हम याद्दाश्त का जाना तो नहीं कहेंगे लेकिन इस बीमारी में  कभी-कभी दिमागी तनाव या अन्य समस्या के कारण दिमाग में कोई झटका व चोट लगने के कारण भी अपने जीवन का कुछ हिस्सा भूल जाते हैं।

Forgotten Girl

इसके तत्पश्चात् उन्होंने अपना लगभग तीन माह तक लगातार उपचार करवाया। और जब एक दिन वह सुबह उठीं तो उन्होंने अपने को ३२ वर्ष की उसी अवस्था में पाया । अपनी इस अनोखी बीमारी और अजीब हालत पर अब नाओमी ने किताब ‘द फॉरगॉटन गर्ल’ लिखी है।

 

Article Categories:
Shocking News